स्थिरता की स्थिति: वेंट्रल वेगल + डॉर्सल वेगल

स्थिरता समग्र स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होती है क्योंकि यह आदर्श मानसिक स्पष्टता और शारीरिक वसूली को सुगम बनाती है।

CO-CEO, NEUROFIT
1 मिनट का पठन
OCT 4, 2023
स्थिरता: वेंट्रल वेगल और डॉर्सल वेगल
स्थिरता की स्थिति वेंट्रल वेगल और डॉर्सल वेगल प्रतिक्रियाओं का मिश्रण है। इस स्थिति की पहचान शांति और आराम की भावना से होती है। शरीर विश्राम की स्थिति में होता है और मन स्पष्ट और केंद्रित होता है। यह स्थिति समग्र स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होती है क्योंकि यह शरीर को स्वयं को ठीक करने और मरम्मत करने की अनुमति देती है।
स्थिरता: वेंट्रल वेगल की सुरक्षा और संतुलन
वेंट्रल वेगल की स्थिति की पहचान हृदय की दर और रक्तचाप में कमी से होती है। यह स्थिति पैरासिम्पैथेटिक तंत्रिका तंत्र से जुड़ी होती है और यह "विश्राम और पाचन" प्रतिक्रिया के लिए जिम्मेदार होती है। जब शरीर विश्राम की स्थिति में होता है, तो यह स्वयं को ठीक करने और मरम्मत करने में सक्षम होता है।
स्थिरता: डॉर्सल वेगल के प्रति प्रतिरोध निर्माण
स्थिरता डॉर्सल वेगल प्रतिक्रिया के प्रति प्रतिरोध भी निर्माण करती है क्योंकि यह मन और शरीर के बीच संबंध को मजबूत करती है, यह सुनिश्चित करती है कि हम केवल चरम परिस्थितियों में ही शटडाउन स्थिति में जाते हैं। डॉर्सल वेगल प्रतिक्रिया की पहचान हृदय की दर और रक्तचाप में कमी, साथ ही पाचन और प्रतिरक्षा प्रणाली के शटडाउन से होती है, इसलिए यह सर्वश्रेष्ठ रूप से केवल छोटे अंतरालों में अनुभव की जाती है।
संतुलन, स्पष्टता और रचनात्मकता को सुगम बनाना
जब हम स्थिरता की स्थिति में रहने में सक्षम होते हैं, तो हम तनाव से निपटने और हमारी भावनाओं को प्रबंधित करने में बेहतर होते हैं। यह मन-शरीर कनेक्शन की स्थिति बढ़ती हुई रचनात्मकता और उत्पादकता से भी जुड़ी होती है। तो, अगर आप अपनी समग्र स्वास्थ्य में सुधार करना चाहते हैं, तो अपनी दैनिक दिनचर्या में कुछ स्थिरता शामिल करने पर विचार करें।
क्या आप अपने तंत्रिका तंत्र को नियंत्रित करने के लिए तैयार हैं?
NEUROFIT डाउनलोड करें
इस लेख को साझा करें